Swami Samvit Som Giriji Maharaj Mahasamadhi

PP Som Swamiji shed his physical body on 18th May 2021

????गुरुदेव को नमन। गुरुदेव महामौन में समाधिस्थ होकर परमात्म तत्व मे समाहित हुए।
समस्त संवित् परिवार को अपूर्णिय क्षति हुई। परमात्मा हमें दुःख सहन करने की शक्ति दे????

"संवित् गुरु परम्परा में परमपूजनीय स्वामी ईश्वरानन्दगिरी जी महाराज के पश्चात परमपूजनीय स्वामी सोमगिरि जी महाराज का अनन्त में विलीन होना संवित् परिवार के लिए एक अपूरणीय क्षति है। ईश्वर के चरणों में प्रार्थना करते हैं कि इस कठिन समय में भी हम सभी संवित् का अकम्पित दीप बन जगमगाते रहें।"

~ Samvit Taru Senani, Jodhpur

श्रद्धांजली - संवित सोमगिरिजी महाराज, कृतज्ञता और अपार स्नेहिल भाव सहित स्मरण, सरल, सौम्य, तेजस्वी, भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों के उन्नायक, कवि, गायक, वक्ता, प्रेरक, परम आदरणीय सोम स्वामीजी ने एक सारगर्भित जीवन जीया, उदारता से अपनी प्रतिभा को, अपनी सम्पूर्ण शक्ति को सेवा में समर्पित किया। शत शत प्रणाम, ओम् शांति: शांति: शांति:

~ Shri Ashok Vyas - New York